Home News Point भावी पीढ़ी को खगोलीय विज्ञान से जुड़ने और उन्हें वैज्ञानिक बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण हो सकते हैं ओलंपियाड: सोनू बजाज

भावी पीढ़ी को खगोलीय विज्ञान से जुड़ने और उन्हें वैज्ञानिक बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण हो सकते हैं ओलंपियाड: सोनू बजाज

2 second read
0
1
55

उपमंडल के दो शिक्षकों ने मुंबई में आयोजित एस्ट्रोनॉमी एक्सपोजर कैंप में भाग लेकर अर्जित किया अहम ज्ञान
– हरियाणा से केवल तीन प्रतिनिधियों ने की भागीदारी, विद्यार्थियों को करेंगे जागरूक

गणित अध्यापक सोनू बजाज व भौतिकी प्रवक्ता सतीश गोयल ने मुंबई के होमी भाभा विज्ञान शिक्षण
केंद्र में आयोजित एस्ट्रोनॉमी ओलंपियाड एक्सपोजर कैंप-2024 में भाग लेकर खगोलीय घटनाओं के बारे में अहम जानकारियां हासिल की। केंद्र द्वारा पूरे भारत से कुल 52 प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया था जिसमे हरियाणा से उपमंडल डबवाली के गांव मसीतां के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में कार्यरत गणित प्रवक्ता सोनू बजाज, गांव मिठडी के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में कार्यरत भौतिकी प्रवक्ता सतीश गोयल के अलावा हरियाणा विज्ञान मंच हिसार चित्रा ने कैंप में भागीदारी की। यह कैंप 15 जनवरी से 18 जनवरी तक लगाया गया।
इस संबंध में कैंप से लौटकर सोनू बजाज ने बताया कि इस कैंप का उद्देश्य भारत के कोने कोने में एस्ट्रोनॉमी ओलिंपियाड के प्रति विद्यार्थियों को जागरूक करना है। कैंप में भाग लेने वाले देश भर के प्रतिनिधियों को प्रशिक्षण दिया गया ताकि वे अपने-अपने क्षेत्र में जाकर विद्यार्थियों में एस्ट्रोनॉमी विषय के प्रति रुचि पैदा कर उन्हें ओलंपियाड में भाग लेने लिए तैयार करें। इससे विद्यार्थियों में एस्ट्रोनॉमी, गणित व विज्ञान विषयों में दिलचस्पी बढ़ेगी और इन्हीं में से भविष्य के वैज्ञानिक पैदा होंगे। उन्होंने बताया कि इस तरह के एक्सपोजर कैंप किसी भी देश के विकास के लिए भावी पीढ़ी को विज्ञान से जुड़ने और वैज्ञानिक बनने के लिए प्रेरित करने में महत्वपूर्ण हो सकते है।
वहीं, सतीश गोयल ने बताया कि होमी भाभा विज्ञान शिक्षण केंद्र द्वारा आयोजित ओलंपियाड बच्चों में वैज्ञानिक क्षमता का विकास कर भविष्य में नई तकनीक विकास के रास्ते खोल सकती है। मुंबई में आयोजित इस कैम्प में अन्वेष मजूमदार व उनकी पूरी टीम के मार्गर्शन में प्रतिनिधियों को ब्रह्मांड में होनी वाली गतिविधियों वाइट ड्वार्फ, सुपरनोवा विस्फोट, न्युट्रीनो पार्टिकल के बारे में जानकारी दी व एस्ट्रोनॉमी क्षेत्र में भविष्य की अपार संभावनाओं पर मंथन किया। इसके लिए रात्रि में लाइव स्काई ऑब्जर्वेशन व प्लेनेटोरियम की सहायता से गतिविधियों का प्रशिक्षण दिया।


सोनू बजाज व सतीश गोयल ने बताया कि प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले प्रतिनिधियों ने कैंप में जो ज्ञान अर्जित किया है उसे विभाग के साथ मिलकर अपने-अपने क्षेत्र में बच्चों को अहम जानकारियां देते हुए उन्हें एस्ट्रोनॉमी ओलंपियाड में भाग लेने के लिए प्रेरित करेंगे। इससे बच्चों को एक्सपोजर मिलने के साथ करियर को भी नई दिशा मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

लायंस क्लब अक्स द्वारा 25 फरवरी को आयोजित होने वाले “अक्स आशीर्वाद सामूहिक कन्यादान समारोह” मे भिवानी की बजेगी शहनाई, मोगा और बठिंडा के कलाकार करवाएंगे विरासत से रुबरु

25 फरवरी को संस्कृति, सभ्यता और विरासत मेला थीम पर आयोजित होगा सामूहिक विवाह समारोह लायंस …