Home Shaad, Pen ये अंदर की बात है …

ये अंदर की बात है …

2 second read
0
0
67

नया दिन आया है हर बात का जबाव देने के लिए ..
हम कितनी बाते करते है सुनते है हर बात नई बात को जन्म देती है लेकिन सोचना ये है की दिन भर में कितनी बाते की है वो कितनी जरुरी थी कितनी नहीं
सोचो अगर एक दिन के लिये सब कुछ शांत हो जाये हम कुछ न बोले सिर्फ अंदर चल रही कशमकश को रोकने की कोशिश करे न हमें कुछ दिखाया जाये न सुनाया जाये हमें सिर्फ अंदर का चिंतन किया जाये
तो सच सामने आ जायेगा की हम क्या है
खुद की नजर में ……..
बहुत कुछ हमसे ऐसा हो जाता है जिसका हमे पता नही होता कि हम ऐसा क्यों कर रहे है ….
हर किसी के दो किरदार है और हर किसी का पहला किरदार आपने घर मे होता है दूसरा फेसबुक यानी संसार मे ..(ज़िन्दगी के सफर में कुछ पल आराम के आपने ही चहेरे से मिट्टी उतारने का प्रयास जो बहुत मुश्किल है क्योंकि ये अंदर की बात है)
ज़िन्दगी जिन्दाबाद ।।
#sajnivv Sanjivv Shaad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

लायंस क्लब अक्स द्वारा 25 फरवरी को आयोजित होने वाले “अक्स आशीर्वाद सामूहिक कन्यादान समारोह” मे भिवानी की बजेगी शहनाई, मोगा और बठिंडा के कलाकार करवाएंगे विरासत से रुबरु

25 फरवरी को संस्कृति, सभ्यता और विरासत मेला थीम पर आयोजित होगा सामूहिक विवाह समारोह लायंस …