Home News Point मेरा किथे गया बांसरिया वाला मैं सखियां नू पुश्दी फिरा, गूंज से डबवाली की सारी कॉलोनी को भक्ति सागर में डुबो दिया

मेरा किथे गया बांसरिया वाला मैं सखियां नू पुश्दी फिरा, गूंज से डबवाली की सारी कॉलोनी को भक्ति सागर में डुबो दिया

5 second read
0
1
117

दिव्य ज्योति जागृति संस्थान की और से श्री कृष्ण कथा के प्रचार हेतु आज चौथी एवं अंतिम संध्या फेरी निकाली गई, जिसका प्रारंभ श्री संतोषी माता मंदिर डबवाली से हुआ। संध्या फेरी की शुरुआत मुरारी लाल शर्मा,प्रियंका शर्मा, लीला शर्मा जी द्वारा प्रभु के पूजन और नारियल फोड़कर की गई। आगामी कथा जो 9 नवंबर से 13 नवंबर तक कम्युनिटी हॉल नजदीक गौशाला डबवाली में शाम 6 से रात्रि 9 बजे तक होने जा रही है, उसकी तैयारियां पूरे जोरों शोरों से चल रहे हैं।

जिसका प्रमाण शहर के अलग-अलग मंदिरों एवं कालोनियों में निकलने वाली संध्या फेरिया है आज की संध्या फेरी संतोषी माता मंदिर से होती हुई एकता नगर,कालोनी रोड, आदर्श नगर, राम नगर से होते हुए वापिस संतोषी माता मंदिर पहुंची।


संध्या फेरियो का ये सिलसिला पिछले तीन दिनों से चल रहा है आज संतोषी माता मंदिर में संध्या फेरी बड़ी धूमधाम से निकाली गई जिसमें भक्तों का जोश देखने वाला था आज भी हाथी घोड़ा पाल की जय कन्हैया लाल की, मेनू लाल रंग हुन चढ़ेया, मेरा किथे गया बांसरिया वाला मैं सखियां नू पुश्दी फिरा, गूंज से सारी कॉलोनी को भक्ति सागर में डुबो दिया भजनों की मीठी आवाज ने लोगों को अपने घरों से आने पर विवश कर दिया जैसे जैसे लोग आए वैसे वैसे संध्या फेरी की मंडली बड़ा आकार लेती चली गई संध्या फेरी में बच्चे, बूढ़े, जवान सभी प्रभु की कृपा को पाने के लिए आ रहे थे, और जन जन को प्रभु भक्ति के लिए जागृत कर रहे थे, क्योंकि यह जन्म ही प्रभु की भक्ति के लिए मिला है। इसी के साथ श्री संतोषी माता मंदिर महिला संकीर्तन मंडली और शीला शर्मा,सुमन कालरा,रंजू शर्मा, सीमा सोनी,पिंकी मेहता, कांता भट्टी, नाथी देवी, नीरू जी भी उपस्थित रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

साध्वी कालिंदी भारती जी ने उपस्थित भक्तों के समक्ष भक्त मीरा जो भगवान श्री कृष्ण जी के अन्नय भक्त थे, उनकी जीवन गाथा का वर्णन किया।

दिव्य ज्योति ज…